ए.राजा की पीएम को खरी-खरी
2जी, 2जी स्पेक्ट्रम घोटाला, ए.राजा, प्रधानमंत्री, दूरसंचार मंत्री
ए.राजा की पीएम को खरी-खरी
   शनिवार | अगस्त १८, २०१८ तक के समाचार
बड़ी ख़बरें
कश्मीर का स्पष्ट संकेत
संसदीय उपचुनाव का आभासी बहिष्कार यह दिखाता है कि किस तरह से कश्मीर के लोग भारत सरकार से असंतुष्ट हैं।

रविंद्रनाथ टैगोर भारत के पहले नोबेल पुरस्कार विजेता थे जिन्हें साहित्य के क्षेत्र में योगदान के लिए 1913 में इस पुरस्कार से नवाज़ा गया था।

ताज़ी ख़बरें
नेहरू से आगे निकले मोदी
मुस्लिम महिलाओं के कल्याण के लिए जिस काम को पंडित जवाहरलाल नेहरू की सरकार नहीं कर पाई थी, उसे नरेन्द्र मोदी की सरकार ने कर दिखाया है। इससे उन्हें बधाई मिल रही है। 
सर्वाधिक लोकप्रिय
ए.राजा की पीएम को खरी-खरी
जेपीसी की मसौदा रिपोर्ट आने के बाद राजनीतिक बयार तेज हो गई है। पूर्व दूरसंचार मंत्री ए. राजा ने कहा है कि जो कुछ भी हुआ, वह प्रधानमंत्री की जानकारी में ही हुआ।
दिल्ली | जेपीसी की मसौदा रिपोर्ट आने के बाद राजनीतिक बयार तेज हो गई है। पूर्व दूरसंचार मंत्री ए. राजा ने कहा है कि जो कुछ भी हुआ, वह प्रधानमंत्री की जानकारी में ही हुआ।
‘मैंने सभी काम प्रधानमंत्री से विचार-विमर्श करके के बाद ही किए हैं। पद छोड़ने के बाद भी मैंने सभी लोगों को यही बताया था।” ए.राजा (पूर्व दूरसंचार मंत्री)

संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) रिपोर्ट में 2जी स्पेक्ट्रम मुद्दे पर प्रधानमंत्री को गुमराह करने के आरोप का सामना कर रहे ए.राजा ने कहा है कि उन्होंने जो कुछ भी किया वह प्रधानमंत्री से सलाह-मशविरा करके के बाद ही किया था।

आगे उन्होंने कहा कि अपने बचाव में वे अगले सप्ताह समिति के सामने विस्तार से जवाब भेजेंगे।  पत्रकारों से बातचीत में राजा ने कहा, ‘मैंने सभी काम प्रधानमंत्री से विचार-विमर्श करके के बाद ही किए हैं। पद छोड़ने के बाद भी मैंने सभी लोगों को यही बताया था।”  इसी क्रम में उन्होंने कहा, “अपनी गिरफ्तारी के बाद मैंने अदालत में भी वही बात कही और आरोप तय किए जाने के समय भी यही दलील दी थी। मेरा रुख स्पष्ट रहा है।”

दरअसल, 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन से जुड़े विभिन्न पहलुओं की जांच करने के बाद जेपीसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन घोटाले में प्रधानमंत्री को दूरसंचार मंत्रालय की ओर से अपनायी जाने वाली प्रक्रिया के बारे में ‘गुमराह’ किया था।  रिपोर्ट में तत्कालीन वित्त मंत्री पी.चिदंबरम को भी जेपीसी ने क्लीन चिट दे दी है।

वहीं राजा ने कहा हैं, ‘मैं स्वयं को निर्दोष साबित कर दूंगा। साथ ही जेपीसी को नोट भेजूंगा। मुझे उम्मीद है कि वे मुझे बुलाएंगे।” डीएमके अध्यक्ष एम. करुणानिधि ने जेपीसी रिपोर्ट पर ताने दिए हैं। अपनी प्रतिक्रिया में करुणानिधि ने कहा है, “इस बात पर कैसे विश्वास किया जा सकता है कि मंत्री ने प्रधानमंत्री को गुमराह किया।”


फ़ेसबुक/ट्विटर पर शेयर करें :
पिछली खबर अगली खबर
इससे जुड़ी ख़बरें
सही फैसला, पर गलत समय
चारा घोटाले का फैसला गलत समय पर आया है? यही चर्चा कुछ लोग कर रहे हैं। वे कहते हैं कि राजनीतिक वातावरण को ढाल बनाकर फैसले को अलग रंग दिया जाएगा, जो बिहार का दुर्भाग्य है।
सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगना ठीक नहीं: अन्ना
दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे तो अन्ना हजारे बोल पड़े। उन्होंने कहा कि यह समय विश्वास-अविश्वास दिखाने का नहीं है।
खबर पोस्ट करें | सेवा की शर्तें | गोपनीयता दिशानिर्देश| हमारे बारे में | संपर्क करे |
Back to Top