रविवार | नवंबर १९, २०१७ तक के समाचार
बड़ी ख़बरें
@legend
नवीनतम
भारत को भारत की नजर से देखें
श्रृंगेरी पीठ ने कोलंबिया विश्वविद्यालय के साथ एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किया है, जिसमें पीठ ने विश्वविद्यालय को आदि शंकराचार्य के ग्रंथों का अनुवाद कर उसकी व्याख्या की जिम्मेदारी सौंपी है।
बदलती छात्र राजनीति में रंग रहा डीयू
रामजस कॉलेज में हुआ संघर्ष एक को पसंद और दूसरे को नापसंद करने की लड़ाई भर नहीं है। यह अपनी-अपनी विचारधारा के वर्चस्व को कायम करने का संघर्ष भी है। भवानी सिंह ने जो कहा, उसका आशय यही है।
विपक्ष का विरोध ओछी राजनीति मात्र है
अभिषेक रंजन मूल रूप से शोधार्थी हैं। इन दिनों एक गैर सरकारी संस्था से जुड़कर पूर्वांचल के जिलों में शिक्षा के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। पढ़ें नोटबंदी पर उनकी राय।
यह घोर राजनीतिक फैसला है
अपनी पहली रचना ‘लूजर कहीं का’ से चर्चा में आए लेखक पंकज दुबे ने नोटबंदी पर बेबाक टिप्पणी की है। वे मानते हैं कि यह एक राजनीतिक फैसला है। यहां पढ़ें नोटबंदी पर उनके विचार-
कश्मीर का आम आदमी हाइजैक हो चुका है
कश्मीर में आम आदमी हाइजैक हो चुका है। उसकी आवाज कमजोर पड़ गई है। यही कश्मीर की त्रासदी है। लेकिन अच्छी बात यह है कि वह उन चेहरों को पहचानने लगी है, जो घाटी में उकसावे की राजनीति करते आए हैं। पढ़ें एक रिपोर्ट-
पहले 500 का नोट आता तो अच्छा होता
अभी तो दुकानदारी काफी कम हो गई है। समझ लो कि धंधा बिल्कुल ठप पड़ा है। नोटबंदी पर समीर ने पहली प्रतिक्रिया यही दी। वह दिल्ली के बाराखम्बा रोड पर स्थित एक जूस की दुकान पर काम करता है।
पाक को ईंट का जवाब पत्थर से
पाकिस्तान ने इस बात को अपने तरीके से स्वीकार किया है कि भारत उसे ईंट का जवाब पत्थर से दे रहा है। पाकिस्तान ने कहा है कि उसके नौ लोग मारे गए हैं।
ठहर-ठहर कर आती रिंग-टोन की आवाज
यहां का वातावरण सर्द है। लोग गहरे सदमे में डूबे हैं। चारो तरफ कोलाहल मचा हुआ है। इस बीच रह-रहकर सामानों के बीच से मोबाइन फोन के रिंग-टोन की आवाज आ जाती है। यह रिंग-टोन बेवजह नहीं है, बल्कि अपने लोगों की खोज के लिए है।
सेना में भेजबै बउआ, जरुर भेजबै
उरी हमले में शहीद हुए सैनिक जबरा मुंडा की वृद्ध मां ने कहा है कि वे अपने दूसरे बेटे को देश की हिफाजत के लिए सेना में भेजेगी।
कलाकारों का ठीहा बनता आईजीएनसीए
जब छोटे-बड़े स्थानीय कलाकारों के उठने-बैठने का ठीहा राजधानी दिल्ली में खत्म हो चुका है, वैसे में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र ने नई पहल की है। कला केंद्र के परिसर में एक कैफेटेरिया खुला है।
@legend
सर्वाधिक लोकप्रिय
अमेरिकी नागरिक है आरबीआई गवर्नर
भारतीय रिजर्ब बैंक के गवर्नर के रूप में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने जिस नाम पर मुहर लगाई है, उससे बखेड़ा खड़ा हो गया है। रघुराम गोविंद राजन आरबीआई के नए गवर्नर नियुक्त हुए हैं, पर वे अमेरिकी नागरिक हैं।
केजरीवाल के 'परिवर्तन' का फोर्ड से रिश्ता
अब अरविंद केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं। पहले ‘परिवर्तन’ नामक संस्था के प्रमुख थे। उनका यह सफर रोचक है। उनकी संस्थाओं के पीछे खड़ी विदेशी शक्तियों को लेकर भी कई सवाल हवा में तैर रहे हैं।
आगे केजरीवाल, पीछे ‘सीआईए’ ‘फोर्ड’
अरविंद केजरीवाल ने ‘आम आदमी पार्टी’ (आप) बनाकर जो आदर्श रखा है। उस पर वे कितना खरे उतरते हैं? इसे समझना भी जरूरी है। अन्यथा जनता एक बार फिर धोखा खा सकती है।
मिलकर चुनाव लड़ें भाजपा और कांग्रेस: गोविंदाचार्य
सामाजिक कार्यकर्ता तथा आर्थिक विचारक के. एन. गोविंदाचार्य ने कहा है की भाजपा और कांग्रेस कि नीतियों में काफी समानता है। इन सामंताओं के कारण देश में सत्ता और विपक्ष का भेद खत्म हो गया है।
केजरीवाल का सच बताती पत्रिका
खेल के नियम बदलने की वाहवाही जिस अरविंद केजरीवाल को दी जा रही है, उनकी एक अलग दास्तान भी है। उसे खोजकर ‘यथावत’ पत्रिका ने छापा है। पत्रिका में अमेरिकी महिला शिमिरित की चर्चा है, जिसने ‘कबीर’ संस्था के लिए रिपोर्ट तैयार की थी।
मालदा में उत्पात, चुप क्यों हैं सहिष्णु लोग
पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में जो घटना हुई, उस पर तथाकथित सहिष्णु बिरादरी चुप क्यों है? ये सवाल उठ रहे हैं, लेकिन जवाब देने से तथाकथित सहिष्णु बिरादरी कतरा रही है।
खबर पोस्ट करें | सेवा की शर्तें | गोपनीयता दिशानिर्देश| हमारे बारे में | संपर्क करे |
Back to Top